धर्म ज्योतिषरायपुर

Khabrilal पूजन विशेष :: प्रत्येक बुधवार को विध्नहर्ता भगवान गणेश की पूजा करने से विशेष लाभ होता है।

मंगलमूर्ति श्री गणेश जी सभी देवताओं में सर्वप्रथम पूजे जाते हैं, कहा जाता है की इनका ध्यान करने मात्र से व्यक्ति के जीवन की सारी परेशानियां हल हो जाती है। इसी कारण तो किसी भी शुभ मांगलिक कार्यों को आरंभ करने से पहले श्री गणपति जी का न सिर्फ आवाहन किया जाता है बल्कि उनकी विशेष पूजा-अर्चना भी की जाती है। अगर आप अपने सभी विघ्नों, बाधाओं से मुक्ति चाहते हैं तो बुधवार के दिन ये उपाय आजमाकर देखें।

मान्यता के मुताबिक बुधवार को विध्नहर्ता यानी भगवान गणेश की पूजा करने से विशेष लाभ होता है। इस दिन ‘गं हं क्लौं ग्लौं उच्छिष्टगणेशाय महायक्षायायं बलिः’ मंत्र के जाप से सारे कष्ट दूर होते हैं और व्यक्ति की आर्थिक स्थिति भी बहुत अच्छी हो जाती है।

बुधवार को करें ये काम ::- 1. आर्थिक रूप से परेशान व्यक्ति को बुधवार के दिन भगवान गणेश जी को गुड़ में गाय का घी मिलाकर भोग लगाना चाहिए। सूर्यास्त के समय गणेश गायत्री मंत्र का जप करने से अनेक बाधाओं से रक्षा होती है।

2. एक अमरूद का पौधा लेकर श्री गणेश के मंदिर में जाएं। मंदिर में श्री गणेश के चरणों में देसी घी का दीपक जलाएं। इसके बाद अमरूद के पौधे को घर में लाकर किसी मिट्टी के गमले में लगा दें। आने वाले दिनों में इस पौधे की देखभाल करें, समय से पानी दें और सूखने न दें। जैसे ही इस पौधे पर पहला फल आए तो उस फल को श्री गणेश के मंदिर में अर्पित कर दें।

ऐसा माना जाता है कि फल का चढ़ावा करने के बाद गणपति जी जातक के सभी दुख खत्म कर देते हैं। मान्यता है कि जब तक पौधे पर फल नहीं आते हैं, तब तक ही जातक को धन की समस्या रहती है। जैसे ही वह पहला अमरूद श्री गणेश के चरणों में चढ़ाता है, उसके आने वाले समय के सभी कष्ट खत्म होने लगते हैं।

3. लेकिन केवल धन संबंधी समस्याएं समाप्त करने के साथ-साथ किसी जातक को धन की ज्यादा लालसा हो, तो उसे इस पेड़ का फल रोज श्री गणेश जी के मंदिर में जाकर चढ़ाना चाहिए और साथ ही उपरोक्त दिव्य मंत्र का जाप भी करें।

4. यही उपाय सौन्दर्य पाने के लिए भी किया जाता है। इस उपाय से सौन्दर्य पाने के लिए इस पौधे के तने में एक हरे रंग का कपड़ा बांध दें और हर बुधवार इस कपड़े को दूध के बर्तन में रख दें और श्री गणेश जी के मंदिर मे जाकर श्री गणेश जी के चरणों में निचोड़ दें। ऐसा करने से पूर्ण सौन्दर्य प्राप्त होगा।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close