‘कुली नं 1’ को लेकर हुई आलोचना पर एक्टर वरुण धवन बोले- हां, मैं कूल नहीं हूं और न मुझे फर्क पड़ता है:

post

नई दिल्ली , बॉलीवुड एक्टर वरुण धवन और सारा अली खान
स्टारर फिल्म ‘कुली नं 1’ 25 दिसंबर को रिलीज हुई थी। इसे ओटीटी प्लैटफॉर्म
पर रिलीज किया गया था। सोशल मीडिया पर फिल्म को मिक्स्ड रिस्पॉन्स मिला।
कुछ लोगों को यह फिल्म काफी एंटरटेनिंग भी लगी। वहीं, कुछ ने इसकी आलोचना
की। वरुण धवन के लिए फिल्म पर लोगों का रिस्पॉन्स काफी मायने रखता है। हाल
ही में फिल्म की आलोचना को लेकर वरुण धवन से बातचीत की गई, जिस पर एक्टर ने
कहा कि उन्हें फर्क नहीं पड़ता, क्योंकि हर चीज तो हिट नहीं हो सकती है न।




एक न्यूज पोर्टल से बातचीत में वरुण धवन
ने कहा, “चीजें करना मुश्किल होता है। जिंदगी से भी कई चीजें बड़ी होती
हैं। उन चीजों के प्रति आपके अंदर सहनशीलता होनी जरूरी होती है। मैं एंजॉय
करता हूं। मेरे लिए एक फिल्म बनाना मतलब सभी को प्लीज करना होता है। जनता
का रिएक्शन मेरे लिए काफी मायने रखता है।”




वरुण आगे कहते हैं कि मैं फेक हो सकता हूं
और कूल बनने की भी कोशिश कर सकता हूं, क्योंकि मेरी फिल्म ओटीटी पर है। यह
मेरी ऑडियंस है और मैं इसी के लिए काम करता हूं। जो कोई कहता है कि मैं
कूल नहीं हूं, क्योंकि मैं कई खराब फिल्में भी करता हूं तो ठीक है मैं कूल
नहीं हूं और मुझे फर्क नहीं पड़ता है।


मालूम हो कि फिल्म ‘कुली नं 1’ का निर्देशन वरुण धवन के पिता डेविड धवन ने
किया है। इसमें वरुण धवन और सारा अली खान रोमांस करते नजर आए हैं। फिल्म की
कहानी पुरानी ‘कुली नं 1’ जैसी ही रही है।



नई दिल्ली , बॉलीवुड एक्टर वरुण धवन और सारा अली खान
स्टारर फिल्म ‘कुली नं 1’ 25 दिसंबर को रिलीज हुई थी। इसे ओटीटी प्लैटफॉर्म
पर रिलीज किया गया था। सोशल मीडिया पर फिल्म को मिक्स्ड रिस्पॉन्स मिला।
कुछ लोगों को यह फिल्म काफी एंटरटेनिंग भी लगी। वहीं, कुछ ने इसकी आलोचना
की। वरुण धवन के लिए फिल्म पर लोगों का रिस्पॉन्स काफी मायने रखता है। हाल
ही में फिल्म की आलोचना को लेकर वरुण धवन से बातचीत की गई, जिस पर एक्टर ने
कहा कि उन्हें फर्क नहीं पड़ता, क्योंकि हर चीज तो हिट नहीं हो सकती है न।




एक न्यूज पोर्टल से बातचीत में वरुण धवन
ने कहा, “चीजें करना मुश्किल होता है। जिंदगी से भी कई चीजें बड़ी होती
हैं। उन चीजों के प्रति आपके अंदर सहनशीलता होनी जरूरी होती है। मैं एंजॉय
करता हूं। मेरे लिए एक फिल्म बनाना मतलब सभी को प्लीज करना होता है। जनता
का रिएक्शन मेरे लिए काफी मायने रखता है।”




वरुण आगे कहते हैं कि मैं फेक हो सकता हूं
और कूल बनने की भी कोशिश कर सकता हूं, क्योंकि मेरी फिल्म ओटीटी पर है। यह
मेरी ऑडियंस है और मैं इसी के लिए काम करता हूं। जो कोई कहता है कि मैं
कूल नहीं हूं, क्योंकि मैं कई खराब फिल्में भी करता हूं तो ठीक है मैं कूल
नहीं हूं और मुझे फर्क नहीं पड़ता है।


मालूम हो कि फिल्म ‘कुली नं 1’ का निर्देशन वरुण धवन के पिता डेविड धवन ने
किया है। इसमें वरुण धवन और सारा अली खान रोमांस करते नजर आए हैं। फिल्म की
कहानी पुरानी ‘कुली नं 1’ जैसी ही रही है।



शयद आपको भी ये अच्छा लगे!

Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner
Sidebar Banner